भोपाल के खजूरी थाना क्षेत्र में एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है। एक महीने की बच्ची का शव घर में ही 500 लीटर की पानी की टंकी में पड़ा मिला। ऊपर से ढक्कन लगा हुआ था। ऐसे में पुलिस अब इस पूरे मामले को हत्या मानकर पड़ताल कर रही है। बच्ची की मां ने सुबह 11 बजे उसके गायब होने का बताया था। परिजन और पुलिस को घंटों की तलाश करने के बाद वह मिली।

ग्राम डेहरिया खजूरी निवासी सचिन मेवाड़ा किसान हैं। खजूरी थाने के विवेचना अधिकारी सज्जन सिंह ने बताया कि सचिन की पत्नी ने बुधवार सुबह 11 बजे परिजनों को एक माह की अपनी बेटी किंजल के गायब होने के बारे में बताया। पहले परिजन उसे आसपास खोजते रहे। उसका कुछ पता नहीं चलने पर दोपहर करीब 2 बजे सचिन ने ही पुलिस को सूचना दी गई।

सूचना मिलने पर पुलिस परिजनों के साथ खेत और जंगल में मासूम को तलाशने लगे। पुलिस को लगा कि कहीं कोई जानवर उसे उठाकर न ले गया हो। घंटों की तलाश के बाद भी किंजल का कहीं पता नहीं लगा। ऐसे में पुलिस ने पूरे घर की तलाशी लेनी शुरू की। एक-एक कर सामान को उठाया गया।

इस दौरान पुलिस की नजर कमरे में रखी 500 लीटर की पानी की टंकी पर पड़ी। पुलिस ने जब उसका ढक्कन हटाया, तो उसमें मासूम नजर आई। पुलिस तत्काल उसे अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। विवेचना अधिकारी सज्जन सिंह ने बताया कि बच्ची का पीएम कराया जा रहा है। पोस्टमार्टम होने के बाद परिजनों से पूछताछ की जाएगी

इसलिए हत्या की पूरी आशंका
सज्जन सिंह ने बताया कि टंकी की ऊंचाई करीब 3 फीट होगी। उसके आसपास भी कुछ नहीं था। पलंग वहां नहीं था। बच्ची सिर्फ एक महीने की है। ऐसे में वह करवट भी नहीं ले सकती है, तो अपने आप पानी में नहीं गिर सकती है। सबसे बड़ी बात यह है कि अगर हम मान ले की बच्ची खुद पानी में गिर गई, तो ऊपर से ढक्कन किसने लगाया। ऐसे कई सवाल हैं, जिनके जवाब परिजनों को देना होगा। बच्ची आखिरी बार किसके साथ थी? कहां थी? कैसी थी? यह सब सवाल पोस्टमार्टम होने के बाद परिजनों से पूछे जाएंगे। उसके बाद ही हत्या के असल कारणों और हत्या के आरोपी का पता चल सकेगा।

सचिन की 2019 में हुई शादी
अब तक की पूछताछ में सामने आया है कि सचिन की एक साल पहले ही वर्ष 2019 में शादी हुई थी। अगस्त में उसके यहां एक बेटी ने जन्म लिया। उन्होंने उसका नाम किंजल रखा। यह उनका पहला बच्चा भी था।