भोपाल : प्रदेश में भारत शासन के सहयोग से महिला हिंसा और घरेलू हिंसा के लिए महिलाओं को सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से एक मार्च 2020 को '181' महिला हेल्पलाइन शुरू की गई थी। महिलाओं की सहायता, सूचना एवं सहयोग के लिए टोल फ्री नंबर 24 × 7 संचालित है।

   महिला हेल्पलाइन के माध्यम से एक मार्च 2020 से 21 फरवरी 2021 तक कुल 14 हजार 450 प्रकरणों में से 12 हजार 513 प्रकरणों का निराकरण किया गया। महिला हेल्पलाइन '181' में प्रतिदिन अनुमानित 60 कॉल आते हैं और एक दिन में 10 से 12 प्रकरणों पर काउंसलिंग की जाती है। इसके अतिरिक्त लगभग 350 प्रकरणों पर फॉलोअप भी लिया जाता है।

 उल्लेखनीय है कि '181' हेल्पलाइन के माध्यम से पुलिस, अस्पताल, एंबुलेंस, जिला कानूनी सेवा प्राधिकरण, संरक्षण अधिकारी आदि सुविधाएँ उपलब्ध कराई जा रही हैं। महिला हेल्पलाइन को प्रदेश के समस्त  51 वन स्टॉप सेंटर से एकीकृत किया गया है। इसके अतिरिक्त हेल्पलाइन के माध्यम से महिलाओं को शासकीय सेवाओं और योजनाओं की जानकारी भी प्रदान की जाती है। हेल्पलाइन में अनुभवी परामर्शदाता उपलब्ध रहते हैं, जो महिलाओं को भावनात्मक सहयोग के साथ आवश्यक मार्गदर्शन देते हैं।